Migration Certificate क्या है ? इसे कैसे बनवाये ?

0
72
migration certificate
Image Source : Google

Migration Certificate

यदि आप स्कूल कॉलेज या किसी यूनिवर्सिटी के छात्र हैं तो आपने Domicile Certificate , Migration Certificate , Cast Certificate , Character Certificate आदि कई बार सुना होगा. हमे पढाई के दौरान अपने संस्थान में इन सर्टिफिकेट्स की आवश्यकता समय समय पर पडती ही रहती है. ऐसे में हम सभी को इनके बारे में ज्ञान होना बेहद जरूरी है. अपने पिछले लेख में हमने बात की Domicile Certificate यानी मूल निवास प्रमाण पत्र क्या होता है इसकी कहां आवश्यकता पडती है और इसे ऑनलाइन ऑफलाइन कैसे बनवाया जा सकता है. यदि आप नहीं जानते मूल निवास प्रमाण पत्र क्या है और इसे हम किस प्रकार बनवा सकते है तो आप Domicile Certificate Kya Hai पर क्लिक करके सारी जानकारी विस्तार से ले सकते है. साथ ही कुछ भी सवाल होने पर आप हमे कमेंट बॉक्स में बेहिचक पूछ सकते है.

Migration Certificate Kya Hai ?

आइये आज हम इस लेख में विस्तार से बात करते है Migration Certificate Kya Hai ? इसकी क्यों जरूरत पडती है और इसे कैसे बनवाया जा सकता है ?

दरसल , स्कूल यूनिवर्सिटी में पढाई के दौरान एक कोर्स से दूसरे कोर्स या एक यूनिवर्सिटी से दूसरी यूनिवर्सिटी में स्थानान्तरण लेने को Migration कहा जाता है. यदि आप कोर्स के दौरान अगले वर्ष किसी और कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है तो भी आपको Migration Certificate की आवश्यकता होती है. साथ ही साथ हर स्कूल , कॉलेज और यूनिवर्सिटी के कुछ नियम कानून भी होते है जिसके बाद ही आपको Migration मिलता है.

उधाहरण के लिए मान लीजिये आप दिल्ली विश्व विद्यालय के छात्र है, आप अपने कोर्स का एक वर्ष पूरा होने के बाद किसी दूसरे कोर्स के लिए स्थानान्तरण करवाना चाहते है तो आपको नियम और कानूनों का पालन करते हुए Migration Certificate के लिए अप्लाई करना होगा और आपको अन्य कोर्स में Migration मिल जायेगा. यही नहीं , यदि आपका कोर्स रेगुलर है और आप अपना स्थानान्तरण किसी पत्रचार में चाहते है तो वह भी सम्भव है लेकिन ध्यान रहे , सेमेस्टर से जुड़े कोर्स में यह लागू नहीं.

Migration कई प्रकार का होता है , जैसे Inter College Migration जिसमे आप एक कोर्स से दूसरे कोर्स में ही स्थानान्तरण लेते है. बशर्ते , कॉलेज के नियमों के अनुसार आपको विभाग अनुमति दे और आपके अंक भी ठीक रहे हों. जिसके बाद हम Migration के दूसरे प्रकार पर आते है वह है Inter University Migration जिसमे आप एक यूनिवर्सिटी से दूसरी यूनिवर्सिटी में स्थानातरण लेते है या फिर रेगुलर से पत्रचार कोर्स में जाना चाहते है. जिसके लिए प्रथम वर्ष में आपके सभी सब्जेक्ट्स क्लियर होने चाहिये और रिजल्ट भी कॉलेज व यूनिवर्सिटी के नियमो के अनुरूप हो.

Migration Certificate कैसे बनवाए ?

ऊपर दी गयी जानकारी में उम्मीद है आप अच्छे से समझ गये होंगे की Migration Certificate Kya Hai ? और इसकी क्यों आवश्यकता पडती है. आइये अब बात करते है की Migration Certificate को कैसे बनवाया जा सकता है ?

दरअसल , हर बोर्ड और विश्वविद्यालय के अलग नियम है जिसके तहत आपको Migration प्रक्रिया को मानना होता है. यदि आप महाराष्ट्र बोर्ड से है तो आपके पास प्रमाण त्र के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने की सुविधा उपलब्ध है लेकिन उत्तर प्रदेश बोर्ड में यह सुविधा उपलब्ध नहीं है. जिसके लिए छात्र को सीधे कार्यालय में ही सम्पर्क करना होता है.

यदि आप उत्तर प्रदेश बोर्ड के छात्र है और Migration certificate के लिए अप्लाई करना चाहते है तो आपको UP Board Migration Certificate Application Form स्वच्छता से भरना है जिसके साथ ही आपको कॉलेज से सिफारिश पत्र की भी आवश्यकता होगी. साथ ही Migration Certificate की फीस के रूप में आपको लगभग 300रूपये देने होंगे. जो आपने अपने निकट के उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफिस में दस्तावेजों के साथ जमा करने है.

तो यह थी Migration Certificate से जुडी बेसिक जानकारी. यदि आप स्थानान्तरण के लिए अप्लाई करना चाहते है तो आप अपने यूनिवर्सिटी या कॉलेज के नियमो के अनुसार अप्लाई कर सकते है साथ ही यदि आपके मन में Migration Certificate से जुडा कोई सवाल है तो आप हमे नीचे कमेंटबॉक्स में पूछना न भूलें.

अन्य प्रष्ठ

USB OTG Cable क्या है ? इसके क्या उपयोग है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here