Facts About Titanic | टाइटैनिक से जुड़े रोंचक तथ्य

0
655
Facts About Titanic
Image Source : Google

Facts About Titanic :

एक समय में दुनिया का सबसे बड़ा पानी का जहाज Titanic अपने आप में इतिहास का सबसे बड़ा रहस्य भी है. इंसान के द्वारा बनायीं गयी चीजो में सबसे बड़ी कृतियों में शुमार Titanic इतना बड़ा था की यदि उसे सीधा खड़ा किया जाता तो वह उस समय विश्व में सबसे बड़ी बिल्डिंग से ऊँचा होता. अपनी उंचाई और आकृति में विशाल होने के साथ ही Titanic में चिमनियाँ इतनी ज्यादा बड़ी थी की उसमे से एक समय में दो ट्रेने गुजर सकती थी.

आइये पढ़ते है यह पोस्ट Facts About Titanic जिसमे जानेगे कुछ ऐसे ही टाइटैनिक से जुड़े तथ्यों के बारे में जो आपको भी चौंका देंगे.

 

  • Titanic जहाज का पूरा नाम RMS Titanic था जिसे वाइट स्टार लाइन कंपनी के द्वारा बनाया गया था. जिसे 3000 लोगो की टीम ने बनाना शुरू किया था. Titanic को बनाने में 250 से ज्यादा लोगो को चोटों का सामना करना पड़ा जबकि दो कर्मचारियों की मौत भी हो गयी थी.
  • Titanic की लम्बाई की बात करे तो वह 17 मालों की इमारत जितना ऊँचा था. जो की उस समय में सबसे ऊँची बिल्डिंग होती.
  • जहाज के निर्माण का कार्य नार्थ आयरलैंड में शुरू हुआ जिसकी तारीख़ 31 मार्च 1909 दर्ज है. जिसे बनाने में लगभग 26 महीनो का समय लगा और पूरी तरह बन के 1911 में तैयार हुआ.
  • टाइटैनिक के तैयार हो जाने के बाद इसे देखने के लिए आये लोगो की संख्या लाखो में बताई जाती है.
  • टाइटैनिक के तैयार हो जाने के लगभग 9 महीने बाद 1912 में इसे पहली यात्रा की अनुमति दी गयी लेकिन यह किसे पता था की पहली यात्रा ही इस जहाज की अंतिम यात्रा होगी और यह इतिहास की सबसे दुखद घटनाओ में दर्ज हो जायेगा.
  • इंग्लैंड से 10 अप्रैल 1912 में रवाना हुए टाइटैनिक को 4 दिन हुए थे की रास्ते में हिमपर्वत का सामना करना पड़ा. उस समय टाइटैनिक प्रथ्वी से 640 किलोमीटर दूर था.
  • हिमखंड से टकराने के बाद 2 घंटे 43 मिनट में टाइटैनिक पूरी तरह समंदर के गर्भ में समा चुका था. समंदर में डूबने की गति 16 किलोमीटर प्रति घंटा दर्ज की गयी.
  • कहा जाता है की , हिमखंड के दिखने के 37 सेकंड के बाद ही जहाज उस से टकरा गया जिसके कारण किसी को भी जहाज की दिशा बदलने का समय नहीं मिला. हिमखंड दिखते ही ऑफिसर्स ने जहाज की दिशा को बदलवाने की कोशिश की लेकिन 37 सेकंड का समय इतने बड़े जहाज की दिशा को पूरी तरह मोड़ने के लिए काफी नहीं था.
  • जहाज पर मौजूद मेम्बर्स के पास दूरबीन न होना भी हिमखंड से टकराने का कारण बनी. दूरबीन न होने का कारण बेहद ही चौकाने वाला  सामने आया जिसमे कहा गया की दूरबीन को जिस लॉकर में रखा गया था उसकी चाबी खो चुकी थी.
  • टाइटैनिक की इस दुखद घटना पर फिल्माई गयी फिल्मो में द्रश्य के अनुसार म्यूजिशियन अंतिम क्षण में भी गाना बजाते दिखते है जो की सच्ची घटना पर ही आधारित है. Titanic के डूबने के समय में भी म्यूजिशियन गाना गा रहे थे ताकि वह सभी अपने और दूसरो के मौत के क्षण को ख़ुशी से बिता सके.
  • जहाज के साथ साथ डूबने वालो में सबसे ज्यदा संख्या पुरुषो की थी क्युकी जहाज से महिलाए और बच्चो को पहले ही इमरजेंसी नाव के सहारे बाहर निकाल दिया गया था.
  • लाइफबोट में भी पैसे वालो को पहले जगह दी गयी जिसकी वजह से फर्स्ट क्लास में सफ़र करने वालो को बचाने की संख्या 60 % थी जिसके बाद अन्य लोगो को बचाया गया था.
  • ज़हाज पर मौजूद 9 कुत्तो में से 2 कुत्तो को भी सुरक्षित निकाल लिया गया.
  • इतने बड़े जहाज को 64 इमरजेंसी नाव को एकसाथ ले जाने के लिए डिजाईन किया गया था जबकि हादसे के वक्त मौजूद नावो की संख्या सिर्फ 20 ही थी. जिसके कारण इतनी संख्या में लोगो को अपनी जान गवानी पड़ी.
  • जब जहाज पानी में डूबा तब पानी का तापमान -2 डिग्री था जिसमे व्यक्ति के जिन्दा रहने का समय 15 मिनट आँका गया है.
  • Titanic में लगाई गयी सीटी की आवाज को 16 किलोमीटर की दुरी से ही सुना जा सकता था.
  • अनुमान के मुताबिक़ जहाज पर कुल 2300 लोग़ सवार थे जिसमे 900 जहाज पर काम करने वाले थे. जहाज के टकराने के बाद 1550 लोग डूब गये और लगभग 750 लोगो को बचा लिया गया. लेकिन डूबे हुए लोगो में 337 लोगो की लाशें ही ढूंढी जा सकी.
  • Titanic पर मौजूद 4 चिमनियो में से 3 चिमनी ही काम करती थी जबकि चौथी चिमनी उसकी ख़ूबसूरती बढाने के लिए बनाई गयी थी. इन चिमनियों का आकार इतना बड़ा था की एक साथ दो ट्रेन एक चिमनी में से गुजर सकती थी.
  • टाइटैनिक जहाज में कुछ लोग ऐसे भी मौजूद थे जो सफ़र नहीं करना चाहते थे जबकि उन्हें जबरदस्ती दुसरे जहाजों से भेजने के बजाय इस से भेजा गया ताकि वाइट स्टार लाइन नामक कंपनी को कोयले का खर्च ज्यादा न उठाना पड़े.
  • टाइटैनिक के डूबने के बाद इंग्लैंड की अर्थव्यवस्था भी गडबडा गयी क्युकी इसमें सबसे ज्यादा सफ़र करने वाले व्यक्ति इंग्लैंड के थे.
  • Titanic में फर्स्ट क्लास में सफ़र करने वाले व्यक्ति के लिए खर्चा लगभग 2 लाख 70 हजार था. जबकि सेकंड और थर्ड क्लास के लोगो के लिए यह रकम सिर्फ 4 हजार और  2 हजार रूपये थी.

यदि आपको हमारा यह पोस्ट Facts About Titanic पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले.

ये भी जाने :

Japan Facts : जॉब के समय यहाँ ले सकते है आप नींद की झपकी

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
Find interesting facts about titanic ship
Author Rating
51star1star1star1star1star

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here