Dashrath Manjhi The Mountain Man | पहाड़ से बड़ा आदमी

2
331
Dashrath Manjhi
Image Source : Google

Dashrath Manjhi The Mountain Man

पहाड़ से बड़ा आदमी

हम सभी ने अपने बड़े बुजुर्गो या फिर अध्यापकों को हमेशा ये कहते सुना है की यदि कोई चाहे तो वह अपनी इच्छा शक्ति से मुश्किल से मुश्किल काम को आसानी से कर सकता है फिर बात चाहे पहाड़ चढ़ने की हो या फिर पहाड़ तोड़ने की. कोई भी काम नामुमकिन नहीं है.

अक्सर ही हम सभी अनेको Motivational Stories, Inspirational Quotes, Videos आदि इन्टरनेट पर तलाशते रहते है, लेकिन उन सभी विडियो आदि का असर हम पर शायद तभी तक होता है जब तक वह हमारे सामने होती है उसके कुछ समय बाद हम फिर से पहले की तरह ही हो जाते है.

आज हम आपको मिलवायेगे Dashrath Manjhi The Mountain Man,  वह व्यक्ति जिसने अपनी इच्छा शक्ति और दृढ निश्चय से पहाड़ को बिना किसी मशीन या डायनामाइट का सहारा लिये काट काट कर रास्ता बना दिया.

Dashrath Manjhi
Image Source : Google

Dashrath Manjhi The Mountain Man की कहानी शुरू करने से पहले हम आपको बता दे यदि आप सच्चे प्यार को जाहिर करने का तरीका कोई इमारत बनवाना ही समझते है तो शायद आज आप अपना नजरिया Dashrath Manjhi The Mountain Man की कहानी को पढ़ कर जरुर बदल देंगे.

आज हम बात कर रहे है ‘गया‘ जिले के बेहद ही छोटे गाँव गहलौर के निवासी Manjhi की, जो अपने परिवार के साथ एक टूटी हुइ झोपडी में रोजाना मजदूरी कर गुजर बसर करते थे. Dashrath Manjhi का गाँव इतना पिछड़ा था की वहां के लोगो को पानी लेने के लिए भी कई किलोमीटर रोजाना पैदल चलना पड़ता था.

Manjhi अपने काम से बेहद प्यार और मेहनत के साथ मजदूरी करते, सभी उन्हें अपनी धुन का पक्का मानते थे शायद यही कारण था की ट्रेन का किराया न होने पर T.T ने उन्हें ट्रेन से धक्का दे दिया जिसके बाद भी दशरथ पैदल पटरियों के किनारे चल कर 1300 किलोमीटर दूर इंदिरा गाँधी से मिलने दिल्ली पहुच गये थे. Manjhi की इस हरकत से वह पूरे गाँव में चर्चित थे लेकिन यह कारण Dashrath Manjhi की असल पहचान का नहीं था.

Manjhi का विवाह Falguni Devi नाम की लडकी से हुआ जिसे वह बेहद प्यार करते थे, एक दिन Dashrath Manjhi पहाड़ों पर मजदूरी कर रहे थे तो उनकी पत्नी Falguni Devi खाना लेकर वहां पहुची लेकिन कुदरत को कुछ और ही मंजूर था की पहाड़ की उचाई तक पहुचते ही Falguni का पैर फिसल गया और वह नीचे गिर गयी.

पहाड़ों से नीचे गिरते ही Falguni बेहद चोटिल हो गयी जिसके लिए उन्हें उपचार की तुरंत आवश्यकता थी लेकिन पिछड़ा पहाड़ी इलाका होने के कारण Falguni को तुरंत अस्पताल ले जाने का कोई साधन नही था और देखते ही देखते Falguni की मौत हो गयी. जिसके बाद Dashrath Manjhi ने वह पहाड़ काटने का संकल्प लिया जिस पहाड़ से गिरने पर उनकी पत्नी की मौत हुयी.

Dashrath Manjhi
Image Source : Google

Dashrath Manjhi ने हथोड़े और छेनी के सहारे से विशाल पहाड़ को काटना शुरू किया जिसे देख सभी गाँव वालो ने उन्हें पागल और सनकी कहना शुरू कर दिया लेकिन Dashrath Manjhi अपनी जिद पर डटे रहे और बिना किसी बात की परवाह किये वह धुप छाव और बारिश में भी अपने काम में लगे रहते.

धीरे धीरे करते हुए Dashrath Manjhi की मेहनत रंग लायी और उन्होंने विशाल पहाड़ को काट कर अन्नी और वजीरगंज ब्लाक की 80 किलोमीटर की दूरी को मात्र 3 किलोमीटर का कर दिया. मांझी द्वारा बनाया 360 फिट लम्बा और 30 फिट चौड़ा रास्ता देख हर कोई हैरान था. जिसके बाद Dashrath Manjhi को बिहार सरकार द्वारा सम्मानित किया गया और उनके नाम पर रोड, स्मारक आदि का निर्माण कराया गया.

Dashrath Manjhi
Image Source : Google

Dashrath Manjhi को The Mountain Man के नाम से जाना जाने लगा, साथ ही साथ उनके जीवन पर बॉलीवुड फिल्म भी बनायीं गयी. Manjhi को पहाड़ काट कर रास्ता बनाने में 22 साल का समय लगा.1934 में जन्मे Dashrath Manjhi The Mountain Man की मृत्यु 2007 में कैंसर के चलते हुयी.

अन्य प्रष्ठ

विस्तार से जानते है बियर पीने के अनेकों फायदे

Masturbation Meaning in Hindi | फायदा , नुकसान और अफवाहे

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here