Corona Virus क्या है ? इसके लक्षण एवं उपाय

0
Corona Virus Kya hai
Image Source : Google

कोरोना वायरस क्या है ? लक्षण एवं उपाय

Corona Virus का कहर वर्तमान समय में दुनियाभर में फैला हुआ है, कोरोना वायरस से दुनिया भर के कई देश परेशान है। इसके आगे अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश ने भी घुटने टेक दिए हैं, कोरोना वायरस यानी Covid19 को विश्व स्वास्थ्य संग्रहालय के द्वारा एक महामारी घोषित कर दिया गया है।  

Covid19 की शुरुआत चीन से हुई और चीन से निकले इस छोटे से वायरस ने पूरी दुनिया को तबाह कर दिया है। कोरोना वायरस ने दुनिया के कई बड़े बड़े देशों की अर्थव्यवस्था को अस्तव्यस्त कर दिया है और Covid19 की वजह से भारत की अर्थव्यवस्था पर भी काफी प्रभाव पड़ा है।

Corona Virus की वजह से विश्व भर में अब तक 40 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें 3 लाख से अधिक लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। 10 लाख लोगों को वापस इस बीमारी से ठीक भी कर लिया गया है।

आज हम आपको इस article में Corona Virus Kya Hai ? इसके लक्षण, बचने के उपाय एवं कोरोना वायरस से जुड़ी संपूर्ण जानकारी बताएंगे। इसीलिए इस article को अंत तक जरूर पढ़ें।

Corona Virus Kya Hai ?

कोरोना एक प्रकार का विषैला वायरस है। यह वायरस मनुष्य के स्वसन तंत्र को प्रभावित करता है। कोरोना वायरस की शुरुआत सामान्य जुखाम की तरह होती है। जो कि कुछ समय बाद मनुष्य के पूरे स्वसन तंत्र को खराब कर देती है।

कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद अगर करोना वायरस मनुष्य किस शरीर में ज्यादा दिनों तक रह जाता है। तो यह मनुष्य की जान भी ले सकता है।

कोरोना वायरस के लक्षण क्या है ?

मुख्य रूप से Corona Virus का लक्षण सर्दी जुकाम होता है। जिसकी वजह से लोग इसे गंभीर में नहीं लेते हैं, और इसका जल्द इलाज नहीं करवाते हैं।

कोरोना वायरस पर किए गए अध्ययनों से यह पता चला है, कि कोरोन के लक्षण सामान्य जुकाम के लक्षणों से काफी अलग होते हैं।

मुख्य रूप से Covid19 के पांच लक्षण होते हैं। अगर किसी भी व्यक्ति के शरीर में यह पांच लक्षण देखने को मिलते हैं। तो उन्हें कभी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह कोरोना वायरस के संकेत भी हो सकते हैं।

आइए जानते हैं इन 5 लक्षणों के बारे में :-

1. नाक का बहना :-

Covid19 का सबसे से प्रमुख लक्षण नाक बहना होता है, और कई लोगों का नाक बहने की समस्या को जुकाम का लक्षण समझकर नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन उन्हें सबसे पहले अपनी जांच अवश्य करवा लेनी चाहिए। क्योंकि नाक बहना एक प्रकार का कोरोना का लक्षण भी हो सकता है।

2. छींक आना :-

यदि किसी व्यक्ति को ज्यादा मात्रा में छींक आती है। तो यह भी एक प्रकार का वायरस का लक्षण होता है। कोरोना के इस लक्षण को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। छींक ठीक होने की दवाई अवश्य लें, और इस परेशानी को अपने doctor को अवश्य बताएं। नहीं तो यह छोटी सी परेशानी भी घातक रूप ले सकती है।

3. गले में खराश होना :- 

कोरोना का एक अन्य लक्षण गले में खराश होना भी है। यदि किसी व्यक्ति को अचानक से गले में खराश होने लगती है। तो उसे तुरंत doctor से संपर्क करना चाहिए। क्योंकि यह एक प्रकार का Corona Virus होने का संकेत भी हो सकता है। आपके साथ ऐसी घटना हो रही है। तो उसे कभी भी नजरअंदाज ना करें।

4. खांसी होना :- 

मुख्य रुप से करोना वायरस की शुरुआत खांसी से ही होती है। ऐसी स्थिति में अगर किसी व्यक्ति को ज्यादा खांसी रही हो, तो उसे अपने doctor से अवश्य सलाह लेनी चाहिए। और खांसी की दवाई का भी नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। अगर आप ऐसी स्थिति में आप इन लक्षणों को नजरअंदाज करते हैं। तो आपके शरीर के लिए यह काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है।

5. तेज़ बुखार होना :- 

तेज बुखार भी एक प्रकार से कोरोना का लक्षण होता है।  आप में से किसी भी व्यक्ति को ज्यादा दिनों से तेज बुखार रहा है। तो इसकी जल्द से जल्द test करवाएं और इससे ठीक होने की दवाई लें। क्योंकि तेज बुखार ज्यादा समय तक आने से covid19 का संक्रमण शरीर में और अधिक फैल जाता है।

कोरोना वायरस किन कारणों से होता है ?

वैसे तो अभी तक कोरोना वायरस के कारणों का सही पता नहीं चल पाया है। लेकिन कोरोना वायरस पर किए गए अध्ययनों के अनुसार संभावित कारणों की जानकारी दी गई है। जो कि covid19 की वजह बन सकते हैं।

कोरोना वायरस होने के मुख्य कारण निम्नलिखित हैं :

Sea food खाने से :- कोरोना वायरस होने की संभावना उन लोगों में ज्यादा रहती है। जो सर्वाधिक मात्रा में sea food का सेवन करते हैं। जो लोग रोजाना sea food का सेवन करते हैं। उन्हें नियमित रूप से health check अवश्य करवाना चाहिए। ताकि covid19 जैसी गंभीर बीमारी के संकेतों की पहचान हो सके, और इससे बचा जा सके सकें।

चमगादड़ या सांप के संपर्क में आने से :-  चमगादड़ और सांप के संपर्क में आने के बाद कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावना बढ़ जाती है। इसीलिए चमगादर और सांप से दूरी बनाकर रखें। अगर इनसे संपर्क हो भी जाता है। तो तुरंत अपने health को check करवाएं।

संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से :-  Corona Virus होने का सबसे अधिक खतरा संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से होता है। संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से कोरोना आपके शरीर में भी सकता है।

इसीलिए हमें ऐसे लोगों से दूरी बनानी चाहिए। जो पहले से covid19 से संक्रमित हैं, और अगर आप कोरोना वायरस संक्रमित के संपर्क में जाते हैं। तो आप अपने परिवार से अलग रहे, और समयसमय पर अपना health चेकअप करवाएं।

जुखाम होने से :- कोरोनावायरस का मुख्य लक्षण जुखाम होता है, और जुकाम के जरिए भी कोरोनावायरस आपके शरीर में दस्तक दे सकता है। वैसे भी सामान्य जुखाम होने पर लोग इलाज नहीं करवाते हैं, और उसे नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन इस सामान्य समस्या को नजरअंदाज करने के बाद वह एक घातक रूप ले लेती है।

अगर आपको वर्तमान समय में जुखाम है। तो आप जल्द से जल्द डॉक्टर पास जाए, और परामर्श ले ताकि आपको covid19  है या नहीं, इसकी पुष्टि की जा सके।

कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता होने से :- अगर कोई व्यक्ति कमजोर है, और उसके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है। तो उसके शरीर में Corona Virus का संक्रमण हो सकता है। क्योंकि अभी तक Corona Virus के ज्यादातर मामले कमजोर और कम रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों में देखने को मिले हैं।

कोरोना वायरस के side effect क्या हो सकते है ?

ज्यादातर व्यक्ति ऐसे भी है। जो अपने शरीर में कोरोनावायरस का संक्रमण होने के बावजूद भी उसके लक्षण को पहचान नहीं पाते हैं, और यह covid19 कुछ समय बाद का घातक रूप ले लेता है।

अगर समय रहते कोरोना वायरस पर ध्यान नहीं दिया जाता है। तो कई प्रकार के side effect होते हैं। जोकि निम्नलिखित है, कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों को मुख्य रूप से इन 5 side effect का सामना करना पड़ता है।

1. गले का infection :- कोरोना वायरस का मुख्य साइड इफेक्ट गले का इंफेक्शन होता है। गले के इन्फेक्शन की समस्या को नजरअंदाज करने के बाद शरीर में Corona Virus घातक रूप ले सकता है, और गले के इन्फेक्शन को अधिक मात्रा में बढ़ा सकता है।

2. नाक का infection :- गले के infection के बाद कोरोनावायरस का मुख्य side effect  नाक में इन्फेक्शन होता है। वैसे तो नाक के इंफेक्शन पर समय रहते सतर्क हो जाए। तो ठीक भी किया जा सकता है। लेकिन लंबे समय तक नाक का infection देने के बाद नाक की सर्जरी के अलावा कोई विकल्प नहीं बचता है।

3. साइनस होना :-  अब तक covid19  के ऐसे भी कई केस सामने आए हैं। जिनमें यह बीमारी साइनस का कारण भी बन जाती है। इस स्थिति में Corona Virus पीड़ित मरीजों पर साइनस का इलाज भी अवश्य करना चाहिए।

4. सांस लेने में तकलीफ़ होना :-  Corona Virus का मुख्य लक्षण भी सांस लेने में तकलीफ है, और ज्यादा समय तक कोरोना वायरस शरीर में रहने के बाद यह एक side effects भी बन जाता है। ऐसी सूचना कोरोनावायरस मरीजों को medical device से स्वास लेने की तकलीफ को दूर किया जाना चाहिए।

5. मौत :-  कोरोनावायरस का सबसे गंभीर और घातक side effect मौत का होना है। इसीलिए कोरोनावायरस का इलाज समय रहते करवा ले, नहीं तो अगर यह बीमारी गंभीर हो जाती है। तो इससे मनुष्य को अपनी जान भी गवानी पड़ सकती है।

कोरोना वायरस का इलाज कैसे किया जा सकता हैं ?

कोरोना वायरस इस समय डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बहुत बड़ी चुनौती है। वर्तमान समय में बीमारी के इलाज की पूरी जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। इसीलिए कोरोनावायरस का इलाज कुछ संभावित तरीकों से किया जा सकता है।

वैसे तो अब तक पूरे विश्व में कोरोनावायरस का सही और सटीक इलाज नहीं मिला है, लेकिन उच्च संभावित तरीकों से covid19 का आसानी से इलाज किया जा सकता है।

कोरोना वायरस का इलाज करने के पांच महत्वपूर्ण संभावित तरीके निम्नलिखित है।

1. आराम करें :-  Corona Virus का सबसे आसान तरीके से इलाज करने का मुख्य तरीका आराम करना है, कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति को ज्यादा भागदौड़ नहीं करनी चाहिए। उसे ज्यादा से ज्यादा मात्रा में आराम करना चाहिए।

आराम करने से शरीर की ऊर्जा बढ़ती है, और शरीर में ज्यादा उर्जा प्राप्त होने पर इस बीमारी से जल्दी राहत मिल सकती है।

2. अधिक मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन करें :- Corona Virus होने के बाद doctor भी कोरोना वायरस मरीजों को अधिक मात्रा में पेय पदार्थ का सेवन करने की सलाह देते हैं। तरल पदार्थ मानव शरीर में पानी की कमी को दूर करता है और शरीर में इस बीमारी से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है।

3. लार की जांच करवाये :- कोरोना वायरस से राहत पाने के लिए डॉक्टरों से नियमित रूप से अपने मुंह की लार की जांच अवश्य करवाएं। क्योंकि covid19 का इलाज मुंह की लार को जांच करने के बाद ही संभव होता है।

4. खांसी की दवाई का सेवन करें :- कोरोना वायरस की बीमारी से राहत पाने के लिए सर्वप्रथम खासी को रोकना बहुत ही आवश्यक होता है। इसीलिए समयसमय पर खांसी की दवाई अवश्य ले।

5. दर्द निवारक दवाईयां लेना :-  कोरोना वायरस का इलाज दर्द निवारक दवाइयों से भी संभव है। इसीलिए अगर कोई covid19 संक्रमित व्यक्ति है। तो उन्हें दर्द निवारक दवा का सेवन अवश्य करना चाहिए।

कोरोना वायरस की रोकथाम कैसे की जा सकती है ?

कोरोना वायरस को एक महामारी घोषित कर दिया गया है। क्योंकि अभी तक कोरोना वायरस का कोई ठोस इलाज पता नहीं चला है, और covid19 से विश्व भर में कई लोगों की मौत भी जा चुकी है।

इसके लिए अगर आप थोड़ी सावधानी रखते हैं, तो इस बीमारी को फैलने से रोका जा सकता है।

  • इस बीमारी को रोकने के लिए समयसमय पर अपने हाथों को साबुन और सैनिटाइजर से अच्छी तरीके से धोएं।
  • छिंकते और खासते समय अपने मुंह पर कपड़े या किसी रुमाल का उपयोग करें। ताकि अगर आप कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। तो यह संक्रमण किसी दूसरे व्यक्ति तक ना फैले।
  • सोशल distance का मुख्य ध्यान रखें। कोरोना वायरस संक्रमित लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखें।
  • अपने आंख, नाक मुंह को छूने से बचे, ऐसा करने से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सकता है।

कोरोना वायरस कैसे फैलता है ?

Corona Virus बहुत तेजी से फैल रहा है। लेकिन यह वायरस कैसे फैलता है। इसके बारे में आपके दिमाग में सवाल अवश्य उत्पन्न होता है। कोरोना वायरस फैलने के कारण निम्नलिखित हैं।

  • छिंकते और खांसते वक्त आपके शरीर में प्रदूषित हवा चली जाती है। वही प्रदूषित हवा शरीर तक पहुंचने से करना वायरस फैलता है।
  • Covid19 पहले का मुख्य दूसरा कारण लोगों से हाथ मिलाना है। अगर आप किसी भी संक्रमित व्यक्ति से हाथ मिलाते हैं। तो कोरोना वायरस आपके शरीर में भी पहुंच जाता है।
  • किसी भी कोरोना से संक्रमित वस्तु को छूने से बचें, नहीं तो उस संक्रमित वस्तु पर उपलब्ध कोरोनावायरस आपके शरीर तक पहुंच सकते हैं।
  • Corona Virus से पीड़ित किसी भी जानवर के संपर्क में आने से बचें, नहीं तो आप भी कोरोना वायरस के संक्रमण में सकते हैं।

कोरोना वायरस की शुरुआत कहां से हुई थी ?

कोरोना वायरस एक प्रकार का वायरस है। यह वायरस मनुष्य के लिए जानलेवा साबित हो चुका है। इस वायरस की शुरुआत चीन के एक शहर वुहान से हुई है। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है। कि यह वायरस कैसे उत्पन्न हुआ है। लेकिन इस बात का पता लगाया गया है। कि इस वायरस का जन्म चीन से ही हुआ है, और आज वायरस पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया है।

वर्तमान समय में कोरोना वायरस संक्रमितो की संख्या ?

वर्तमान समय में Corona Virus ने विश्व के लगभग सभी देशों में दस्तक दे दी है। कोरोना वायरस का संक्रमण विश्व भर में काफी तेजी से चल रहा है। कोरोना वायरस के आगे अमेरिका जैसे विशाल और शक्तिशाली देश ने भी घुटने टेक दिए हैं। क्योंकि कोरोनावायरस महामारी से अमेरिका में 15 लाख से भी ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, और इनमें से लगभग 90000 लोगों की मौत भी हो चुकी है। साथ ही  America में 2 लाख लोगों को इस बीमारी से ठीक भी कर दिया गया है।

विश्व भर में अब तक 40 लाख से ज्यादा लोग इस बीमारी की चपेट में गए हैं। उनमें से 10 लाख से अधिक लोगों को इस बीमारी से ठीक भी कर दिया गया है। अब इस बीमारी से 3 लाख से अधिक लोगों की मृत्यु हुई है।

कोरोना वायरस से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण FAQs

Q 1 – कोरोनावायरस क्या है ?

Ans – कोरोना एक प्रकार का वायरस है। जो इंसानों के शरीर में दस्तक देने के बाद को सर्वप्रथम इंसान के स्वसन तंत्र को खराब करता है।

Q 2 – कोरोनावायरस से जान भी जा सकती हैं क्या ?

Ans – जी हाँ, Corona Virus एक जानलेवा वायरस है जिस से व्यक्ति की जान भी जा सकती हैं।

Q 3 – कोरोनावायरस की शुरुआत कहां से हुई ?

Ans – कोरोना वायरस की शुरुआत चीन के एक शहर वुहान से हुई थी। लेकिन अब यह वायरस पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है।

Q 4 – कोरोनावायरस के क्या लक्षण है ?

Ans –Corona Virus शुरुआत के समय में सर्दी जुकाम की तरह लगता है। लेकिन बाद में श्वसन तंत्र से सांस लेने में दिक्कत आती है, और साथ ही मांसपेशियों में भी दर्द होने लगता है।

Q 5 – कोरोनावायरस से कैसे बचें ?

Ans – कोरोनावायरस का अब तक कोई इलाज उपलब्ध नहीं है। लेकिन कुछ तरीकों से कोरोना वायरस बीमारी से बचा जा सकता है। जो कि निम्नलिखित है :

1. मांस ना खाएं

2. मुंह पर मास्क पहने

3. हाथो को साफ रखे

4. साबुन से हाथ धोते रहे

5. अगर कोई व्यक्ति छिक रहा है तो उससे दूर हो जाएं और अपने मुंह पर रुमाल से ढक लें

अन्य पृष्ठ

Hindi Paheliyan | Hindi Puzzles | Hindi Riddles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here