RT- PCR Test Kya Hai? और RT- PCR Test कैसे किया जाता है ?

0
RT PCR Test Kya Hai
Image Source : Google

RT- PCR Test Kya Hai? और RT- PCR Test कैसे किया जाता है ?

दोस्तों कैसे कि आप लोग जानते हैं कि इस समय कोरोना महामारी से पूरा इंडिया परेशान है। जब  हमारे शरीर में कोरोनावायरस के लक्ष्ण दिखाई देते हैं तो सबसे पहले डॉक्टर लोग हमें आरटी पीसीआर टेस्ट कराने के लिए बोलते हैं। ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिन्हें नहीं मालूम है कि आखिर आरटी पीसीआर टेस्ट क्या होता है। इसलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से RT PCR Test Kya Hai और RT PCR टेस्ट क्यों कराया जाता है इसके बारे में हम पूरी जानकारी संक्षेप में देंगे।

इसके अलावा अगर आप देशविदेश या फिर एक राज्य से दूसरे राज्य ट्रैवल करते हैं। तो आपसे आरटी पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट मांगी जाती है। यही वजह है कि अधिकतर लोगों  के मन में बहुत सारे सवाल होते हैं कि आखिर हम लोगों से आरटी पीसीआर टेस्ट क्यों कराया जाता है। इसलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से आरटी पीसीआर टेस्ट क्या है ? और साथ में आरटी पीसीआर  टेस्ट के रिलेटेड जुड़ी सभी जानकारी को आपके सामने देंगे।

RT- PCR Test Kya Hai?

बहुत सारे लोगों के मन में संख्या होती थी आखिरकार RT PCR Test Kya Hai ? आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आरटी पीसीआर टेस्ट के माध्यम से हम यह पता कर सकते हैं कि हमारे शरीर में कोरोनावायरस के लक्षण मौजूद है कि नहीं। कहीं हमारा शरीर भी तो कोरोना वायरस से ग्रसित तो नहीं है।

इसके अलावा अगर आप Corona Virus से ग्रसित हैं। तो आप आरटी पीसीआर टेस्ट के माध्यम से यह भी पता कर सकते हैं कि आपका शरीर कोरोना वायरस से कितने प्रतिशत ग्रसित है। या कहें कि आप आरटी पीसीआर टेस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से पता कर सकते हैं कि आप कोरोना संक्रमित हैं या फिर नहीं है।

RT PCR टेस्ट का फुल फॉर्म क्या है?

बहुत सारे लोग जानना चाहते हैं कि आखिर RT PCR टेस्ट का फुल फॉर्म क्या है। आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि RT PCR टेस्ट का फुल फॉर्म Reverse transcription polymerase chain reaction (रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पोलीमरेज़ चेन रिएक्शन) है।

RT PCR टेस्ट कैसे किया जाता है?

जबसे कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच के लिए RT PCR टेस्ट का नाम आया है। तब से लोगों के मन में एक सवाल जरूर आता है कि आखिरकार RT PCR टेस्ट कैसे किया जाता है। आरटी पीसीआर टेस्ट करने की प्रक्रिया क्या होती है। जिससे कि किसी भी व्यक्ति के कोरोना संक्रमण के बारे में पता किया जाता है।

जैसे कि आप लोग जानते हैं कि हर मनुष्य और जीव का अलगअलग डीएनए होता है। अगर आप डीएनए के बारे में जानते हैं तो आपको यह चीज अवश्य मालूम होगा कि DNA की संरचना एक आटेवाले सायकल जैसी होती है।

इसलिए हम किसी व्यक्ति या फिर जीव के पूरी जानकारी लेने के लिए हम टेक्नोलॉजी के माध्यम से  डीएनए टेस्ट लेते हैं इसलिए हम डीएनए के माध्यम से बहुत ही आसानी से पता कर सकते हैं की कोई भी जीव या बीमारी क्या होती है।

कोरोना वायरस में एक सबसे बड़ी समस्या यह है कि कोरोना वायरस बीमारी DNA से ना बनकर RNA से बनी हुई है।  इसलिए हमें कोरोना वायरस की बीमारी  के लक्षण को जानने के लिए RNA का DNA रूपांतरित करना पड़ता है। इस पूरी प्रक्रिया को हम Reverse transcription कहते हैं।

जब हम किसी व्यक्ति के कोरोना वायरस की जांच के लिए उसके नाक से स्लाइवा लेते हैं।  इसके बाद हम इस स्लाइवा के RNA को Reverse transcription प्रक्रिया के माध्यम से डीएनए में परिवर्तित कर देते हैं।  जब आपका यह स्लाइवा डीएनए में परिवर्तित हो जाता है उसके बाद आपके इस डीएनए की एक साइकल बनाई जाती है। 

इस साइकल की एक अधिकतम सीमा निर्धारित की जाती है। जिसकी अधिकतम सीमा 35 निर्धारित की गई है। जब डीएनए की 35 साइकल बनाई जाती है उस जांच में अगर कोरोना वायरस का संक्रमण मिलता है तो आप कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं। अगर इस प्रक्रिया में करो ना शिकवा नहीं मिलता है तो आप कोरोना नेगेटिव पाए जाते हैं।

आरटी पीसीआर टेस्ट के माध्यम से कैसे पता करें कि आपके शरीर में कोरोना वायरस के संक्रमण अधिक है या कम

आरटी पीसीआर टेस्ट के माध्यम से यह पता करना बहुत ही आसान है कि आपका शरीर कोरोना वायरस से कितना अधिक संक्रमित है। कोरोना वायरस की जांच के दौरान जब RNA को DNA में तब्दील करने के बाद इसकी साइकल बनाई जाती है।

अगर साइकल बनाते समय कोरोना वायरस के लक्षण शुरुआत में ही दिख जाते हैं। तो आप कोरोना वायरस के अधिक संक्रमण से ग्रसित हैं। और वही अगर आपका कोरोना संक्रमण 25 और 35 के बीच में पाया जाता है तो आप कोरोनावायरस से कम संक्रमित हैं। इस तरह से आप बहुत ही आसानी से पता कर सकते हैं कि आपका शरीर कोरोना वायरस के संक्रमण से कितना प्रभावित है।

RT PCR टेस्ट का प्राइस क्या है?

बहुत सारे लोगों के मन में अभी भी संख्या रहती है कि अगर हम आरटी पीसीआर टेस्ट कर आते हैं तो उसमें कितना खर्चा आता है। आप सभी भाइयों के जानकारी के लिए बताना चाहता हूं कि आरटी पीसीआर टेस्ट  कराने का खर्चा अलग अलग राज्य के हिसाब से अलग अलग होता है। आरटी पीसीआर टेस्ट नॉर्मल  फीस ₹500 से लेकर ₹800 तक की है।

RT PCR टेस्ट रिपोर्ट कैसे डाउनलोड करें?

अगर आप घर से आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट देखना और डाउनलोड करना चाहते हैं। तो आप हमारे द्वारा बताए गए तरीकों को फॉलो करके बहुत ही आसानी से आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट डाउनलोड करके दे सकते हैं।

  • आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट डाउनलोड करने के लिए आप हमारे द्वारा बताए गए स्टेप को फॉलो कीजिए।
  • आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आप अपने लैपटॉप या फिर स्मार्टफोन में इनकी ऑफिशियल वेबसाइट https://covid19cc.nic.in/  ओपन करें।
  • इसके बाद आपसे आपका लॉगिन डिटेल मांगी जाएगी आप लॉग इन डिटेल में अपना यूजर नेम और पासवर्ड डालकर कंटिन्यू बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर नंबर पर एक ओटीपी आएगा। आप ओटीपी डाल कर कंफर्म बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने आपके आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट दिखाई देंगे। जिन्हें आप डाउनलोड करके अपनी रिपोर्ट चेक कर सकते हैं।
  • इस तरह से आप बहुत ही आसानी के साथ घर बैठे ऑनलाइन अपनी आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट डाउनलोड कर सकते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल माध्यम से RT- PCR टेस्ट क्या है? और RT- PCR टेस्ट कैसे किया जाता है और उसका प्रोसेस क्या है। इसके बारे में हमने आपको पूरी जानकारी विस्तार से दी है। आशा करता हूं कि आपको इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आरटी पीसीआर टेस्ट के रिलेटेड सभी जानकारी अच्छे से प्राप्त हो गई होगी। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप कमेंट करके अपनी राय अवश्य दें धन्यवाद।

अन्य पृष्ठ 

DigiBoxx Kya Hai? DigiBoxx पर अकाउंट कैसे बनाएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here